डब्ल्यूपीसी और इसका घनत्वः धारणा और तथ्य

person access_time   3 Min Read

डब्ल्यूपीसी के घनत्व पर कई चर्चाएं हो रही हैं और इसके सही अर्थ को समझने की आवश्यकता है। सामान्य रूप से प्रति इकाई मात्रा के अनुसार घनत्व गणना की जा सकती है। अब मुद्दा यह है कि ‘डब्ल्यूपीसी मेटेरियल का घनत्व का निर्धारण होना चाहिए और इसके अंतिम अप्लीकेशन उपयोग के आधार पर आपूर्ति की जानी चाहिए। 0.55 या 0.60 घनत्व के साथ फर्नीचर बनाने में डब्ल्यूपीसी बोर्डों का उपयोग काफी अच्छा है। चूंकि पीवीसी/ डब्ल्यूपीसी बोर्डों का उपयोग ‘स्क्रू एंड साॅल्वेंट’ विधि के साथ फर्नीचर बनाने में तभी किया जाता है, जहां साल्वेंट वेल्ड्स पीवीसी मेटेरियल होते हैं। स्क्रू का उपयोग पीवीसी ग्रिप के साथ भी किया जा सकता है, जिसे साल्वेंट (साइनोएक्रिलेट) मेटेरियल के साथ वेल्ड किया जाए, तो स्क्रू और डब्ल्यूपीसी बोर्ड के बीच अच्छी पकड़ पैदा करेगा।

जैसे-जैसे समय बीतता है, तो स्क्रू कभी-कभी ढीला हो जाता है तो आप पीवीसी/डब्ल्यूपीसी मेटेरियल का एक छोटा टुकड़ा ले सकते हैं, इसे साइनोएक्रिलेट मेटेरियल के साथ वेल्ड कर सकते हैं और उसी स्थान पर फिर से पेंच कर सकते हैं! इस तरह डब्ल्यूपीसी मेटेरियल का रखरखाव बहुत आसान है और उपयोगकर्ता स्वयं भी ऐसा कर सकते है। उपर्युक्त चर्चा में सबसे महत्वपूर्ण बिंदु ‘घनत्व‘ है, जहां लोग भ्रमित हो रहे हैं। अब ‘स्क्रू एंड सॉल्वेंट‘ विधि के साथ आप पैनल फर्नीचर बना सकते हैं, लेकिन ‘सॉल्वेंट वेल्डिंग‘ का उपयोग कर आप स्क्रू के बिना भी पैनल फर्नीचर बना सकते हैं। कारपेंटर के बाजार के लिए यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण प्रैक्टिस है। आप सभी ने एक पीवीसी पाइप को उस साल्वेंट सीमेंट के साथ एक अन्य पीवीसी पाइप में फिक्स करने के लिए प्लम्बर देखे होंगे। हां, पीवीसी/डब्ल्यूपीसी के साथ भी यहीं होता है। उन पाइप को मत भूलें जो छत से एक अपार्टमेंट के ग्राउंड फ्लोर तक कई वर्षों तक लटक रहे होते हैं। इसका मतलब है कि घनत्व की चिंता केवल स्क्रू फिक्सिंग के साथ बने पैनल फर्नीचर लिए ही है।

स्पष्ट रूप से जोर देते है कि - यदि आप एक छोटा या मध्यम आकार का शू रैक बनाना चाहते हैं तो साल्वेंट वेल्डिंग मेथड के लिए 0.45 घनत्व का बोर्ड बिलकुल ठीक है, स्क्रू की कोई जरूरत नहीं है - इसलिए यहां घनत्व की कोई चिंता नहीं है। आलमारी के दराज, छोटी स्टोरेज यूनिट, बाथरूम वैनिटी, बैठने के लिए छोटे फर्नीचर को 0.45 घनत्व और साल्वेंट वेल्डिंग के साथ ही बनाया जा सकता है, क्योंकि उन्हें इसके उपयोग में किसी भी संरचनात्मक ताकत की आवश्यकता नहीं है।

हां, बड़े आकार के फर्नीचर जैसे आलमारी, फाइल रैक, रसोई की अलमारियों में संरचनात्मक ताकत की आवश्यकता होती है और यहां 0.55-0.60 घनत्व की डब्ल्यूपीसी मेटेरियल का उपयोग स्क्रू और साल्वेंट विधि के साथ किया जाना चाहिए। इसी प्रकार केवल डब्ल्यूपीसी डोर फ्रेम 0.80 घनत्व से अधिक उपयुक्त है। अधिक घनत्व का अर्थ है अधिक तकनीकी ताकत, अधिक कम्प्रेशन एंड टेंसाइल पावर जिसका मतलब ऊंची कीमत भी है! तो अब यह स्पष्ट हो गया है कि एप्लीकेशन और उपयोग की विधि के आधार पर डब्ल्यूपीसी मेटेरियल का घनत्व तय किया जाना चाहिए। ग्राहकों और कारपेंटर दोस्तों को भी इसके साथ सूचित या शिक्षित किया जाना चाहिए, ताकि 100 फीसदी टरमाइट और वाटर प्रूफ डब्ल्यूपीसी मेटेरियल का उपयोग अधिक तकनीकी रूप से किया जा सके।

shareShare article

Post Your Comment