ग्रीनपैनल का शुद्ध लाभ तेजी से बढ़ा

person access_time   3 Min Read

ग्रीनपैनल इंडस्ट्रीज की कुल आय 30 फीसदी से पिछले साल की सामान अवधि में 236.19 करोड़ रुपये से बढ़कर वित्त वर्ष 20-21 के 31 दिसंबर को समाप्त तिमाही में 317.33 करोड़रुपये हो गई। शुद्ध लाभ 45.86 लाख रुपये से बढ़कर 30. 45 करोड़ रुपये हो गया और तीन महीने की इसी अवधि में ऑपरेशनल राजस्व 235.38 करोड़ रुपये से बढ़कर 317 करोड़ रुपये हो गया। इस साल फ3 में सेगमेंट वाइज रेवेन्यू कलेक्शन प्लाइवुड और संबंधित उत्पादों से 58.53 करोड़ से बढ़कर 62 करोड़ रुपये था और एमडीएफ और संबद्ध उत्पादों में इस वर्ष फ3 में 78 करोड़ रुपये की मजबूत ग्रोथ देखी गई, जो पिछले साल फ3 में 177 करोड़ से बढ़कर 254 करोड़ रुपये हो गई।

ग्रीनपैनल इंडस्ट्रीज लिमिटेड के एमडीएफ और फ्लोरिंग डिवीजन, के प्रेसिडेंट (सेल्स) श्री शेखर सती, ने कहा कि ग्रोथ के लिए, हमारी टीम का काम काफी सराहनीय है। हालांकि मई 2020 में जब बाजार फिर से खुले तो लगभग कोई कारोबार नहीं था, लेकिन हमने इसके लिए दिन रात मेहनत की तो पहली तीमाही में बिक्री 30 करोड़ थी जो तीसरी तीमाही में 100 करोड़ तक पहुंच गयी। सभी ओर से सकारात्मकता हासिल होने और फर्नीचर सेगमेंट से मांग बढ़ने के साथ, एमडीएफ अब एक हॉट सेलिंग उत्पाद बन गया है।

ग्रीनपैनल भारत में वुड पैनल का सबसे बड़ा निर्माता है, जिनका उत्तराखंड और आंध्र प्रदेश में अत्याधुनिक मैन्युफैक्चरिंग प्लांट हैं जहां एमडीएफ, प्लाइवुड, ब्लॉक बोर्ड, विनियर, फ्लोरिंग और डोर का उत्पादन किये जाते हैं। ग्रीनपैनल में एमडीएफ की मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी 5.5 लाख सीबीएम/वर्ष है, जिसेदेश भर में ग्रीनपैनल के 3000 से अधिक डीलरों के मजबूत डिस्ट्रीब्यूटर नेटवर्क का साथ हासिल है। 

You may also like to read

shareShare article