अंबिका प्रेस ऐप - अब एक क्लिक से मिल सकती है पूरी सर्विस

person access_time   3 Min Read

वुड पैनल मशीन सेगमेंट में पहली बार अंबिका हाइड्रोलिक्स ने अंबिका प्रेस ऐप के रूप में एक डिजिटल प्लेटफॉर्म लॉन्च करने की पहल की है, जो ग्राहकों को एक क्लिक में जुड़ने और सेवा प्राप्त करने का मौका प्रदान करेगा। अंबिका ने इस ऐप को कंपनी के संस्थापक स्वर्गीय अभय  राज छाजेर जी की जयंती के मौके पर पेश किया है। ऐप में ग्राहकों को विश्वस्तरीय उत्पाद और मूल्य वर्ध् िात सेवाओं की पेशकश करने के मिशन के साथ अंबिका की अब तक की यात्रा के बारे में भी विस्तार से बताया गया है। इसे ग्राहकों की जरूरत के अनुसार मांग को पूरा करने के लिए नए युग की तकनीक अपनाने के दृष्टिकोण के साथ पेश किया गया है। ग्राहक केवल एक क्लिक में प्लाइवुड, लेमिनेट्स और रबर प्रेस से संबंधित सेवाओं के अलावा उससे जुड़े सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।इनकी सेवा क्वालिफाइड इंजीनियरों की मदद व् सर्विस सेण्टर के माध्यम से ग्राहकों से फोन, वीडियो कॉल और व्हाट्सएप पर सहायता प्रदान करने के लिए चौबीसों घंटे खुले हैं।

कंपनी द्वारा दी जाने वाली सभी सेवाओं का लाभ उठाने के लिए इसे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है और मोबाइल नंबर द्वारा पंजीकरण किया जा सकता है। इस एप्लिकेशन का उपयोग करके अधिक से अधिक संख्यामें ग्राहक उनसे जुड़ सकते हैं। ग्राहकों को नियमित रूप से डेवलपमेंट और इनोवेशन की जानकारी भी मिलती रहेगी।

लॉन्चिंग के मौके पर प्लाई रिपोर्टर के साथ श्री रवींद्र छाजेर, एमडी, अंबिका हाइड्रोलिक्स के बातचीत के कुछ अंश

प्र. आप इस उद्योग में फोन नंबर के माध्यम से सभी से जुड़े हुए हैं, तो इस ऐप को लॉन्च करने का क्या उद्देश्य है?

निश्चित रूप से मेरा फोन नंबर हमसे जुड़े सभी लोगों के पास है, लेकिन कभी-कभी अंदरूनी लोग मुझसे नहीं जुड़ने पाते है। इसके माध्यम से हर कोई जिन्होंने मोबाइल में डाउनलोड किया है वे हमसे जुड़ सकते हैं। दूसरी ओर, या तो मेन्टेन्स के लोग, कारखाने के प्रबंधक से जुड़े लोग जिन्हें ट्रबल शूटिंग में परेशानी होती है, वे इस एप्लिकेशन द्वारा हमसे त्वरित सहायता प्राप्त कर सकते हैं। भविष्य में हम वीडियो की मदद से सामान्य समस्या से जुड़ी ट्यूटोरियल को भी शामिल करेंगे, जो उन्हें अपनी समस्या को स्वयं हल करने में मदद करेगा। आज के कोविड के समय में हर कोई अपनी सुविधा के लिए इस तरह के एप्लिकेशन के अभ्यस्त है, इसलिए उद्योग के लोगों को इससे बहुत फायदा मिल सकता है। हम पहले की तरह इस एप्लिकेशन पर भी उपलब्ध रहेंगे क्योंकि इस सेवा के लिए हमारे पास एक बैकअप टीम है।

प्र. क्या ऐप केवल शिकायत पर सेवाओं की सुविधा प्रदान करेगा या कोई नए उत्पादों के लिए ऑर्डर भी दे सकता है?

वे किसी भी चीज के लिए पूछताछ कर सकते हैं और नई ऑफरिंग के मामले में उन्हें कॉन्टैक्ट नंबर के साथ उन्हें तुरंत मेल और कोटेशन भी प्राप्त होंगे और आगे की कार्यवाही में हमारे लोगों द्वारा उनकी पूरी सहायता की जाएगी।

प्र. आज हम किसी काम में आगे बढ़ने के लिए लोगों से मिलना चाहते हैे, तो इस एप्लिकेशन में ऐसा क्या वैल्यू एडिशन होगा?

इसके लिए अप्लीकेशन पर मिली सुचना के अनुसार हम आपकी समस्या को हल करने के लिए तुरंत कॉल करेंगे।

प्र. क्या आप उत्पाद में कोई गुणवत्तापूर्ण इनोवेशन/अंतर लाये हैं, क्योंकि आज भारत में काफी लोग प्रेस की पेशकश कर रहे हैं?

हमारा मकसद वैल्यू फॉर मनी प्रदान करना है। इसका मतलब यह नहीं है कि हम कम गुणवत्तापूर्ण उत्पाद देंगे या अधिक कीमत वसूलेंगे। जब हम दूसरों के साथ तुलना करते हैं तो इनपुट रॉ मेटेरियल की क्वालिटी में अंतर हो सकता है, जिससे कीमतों में भी अंतर हो सकता है। मशीनरी के लिए निवेश में अंतर हो सकता है, क्योंकि हमने मशीनों और प्रौद्योगिकी को पूर्णता प्रदान करने के लिए मशीनिंग, प्रिसिजन आदि में करोड़ों रुपये का निवेश किया है क्योंकि यह कम ब्रेक डाउन, ग्राहकों को आगे चलकर फायदा करता है। ये सभी कारक गुणवत्ता में अंतर लाएंगे। दूसरी ओर, हम प्रॉपर मैकेनिजम और परफेक्शन के साथ लंबे समय तक चलने के लिए प्रेस में इनोवेशन कर रहे हैं ताकि बिजली की खपत कम हो और कम ब्रेकडाउन होने से ऑपरेटिंग कॉस्ट कम हो।
 

प्र. आज वर्टिकल प्रेस में डेलाइट्स की संख्या बढ़ रही है। अगले साल भारत में आप इसे कैसे देखते हैं? जरूरत पड़ने पर हम 50 डेलाइट की प्रेस भी बना सकते हैं। सबसे बड़ा सवाल यह है कि भारतीय बाजार कितने डेलाइट का उपयोग कर सकता है?

मेरा कहना है जैसे-जैसे डेलाइट की संख्या बढ़ती जा रही है, हमें प्रेस को मजबूत बनाने पर भी ध्यान देना होगा। तो, इसके कई पहलू हैं। इन दिनों हम 25 से 30 डेलाइट के प्रेस बना रहे हैं। मुझे आशा है कि 2023 तक इसका इंस्टालेशन भारतीय बाजार में दिखाई देंगे, क्योंकि भारत में प्रेस हैंडलिंग, लोडिंग अनलोडिंग में काफी ज्यादा ऑटोमाइजेशन अपनाया जा रहा है। डेलाइट का सीधा संबंध रॉ मेटेरियल और तैयार माल की हैंडलिंग से है, इसलिए यदि किसी के पास वैसा फ्लो है तो वह दो से तीन साल में 30 डेलाइट तक पहुंच सकतें हैं। 

क्या आप लेमिनेट में भी यही चलन देखते हैं?

लेमिनेट में भी यही चलन आ रहा है क्योंकि लोग 20 या 24 डेलाइट पर काम कर रहे हैं, यहां तक कि 28 डेलाइट भी लगाए जा रहे हैं। लेमिनेट में, फॉर्मिंग उतना ही महत्वपूर्ण है जितना इसकी संख्या, कई उद्योगपति इसे डबल स्टेज में कर रहे हैं और कई सिंगल स्टेज में। उनमें से कुछ दोनों तरफ कर रहे हैं। यदि फॉर्मिंग पूरा है तो डेलाइट की संख्या बढ़ाने में कोई दिक्कत नहीं है। प्रेस का उद्देश्य लेमिनेट मैन्यूफैक्चरिंग के दौरान हाइड्रोलिक्स को पूरा समय देने के लिए जरूरी स्पीड के साथ उचित तापमान पर प्रेस्सर प्रदान करना है ताकि मेटेरियल डी लेमिनेट ना हो।

प्र. पार्टिकल बोर्ड्स की तरह प्रेस का इस्तेमाल लेमिनेट और प्लाइवुड मैन्युफैक्चरिंग में भी किया जा सकता है?

इसे हम दोनों में इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन, हमें यह देखना होगा कि पार्टिकल बोर्ड मैन्युफैक्चरिंग के लिए साइमल्टेनियस

क्लोजिंग प्रेस की आवश्यकता क्यों है?

क्योंकि, सभी पार्टिकल ग्लू के साथ मिक्स होते हैं और उस अवस्था में जब तक यह शीर्ष तक नहीं पहुंच जाता, तब तक जो मेटेरियल पहले से ऊपर थी उसकी क्योरिंग हो जाती है। फिर सभी डेलाइट एक साथ बंद होती हैं, जिसे साइमल्टेनियस क्लोजिंग प्रेस कहते है। इसका उपयोग प्लाइवुड और लेमिनेट में भी किया जा सकता है लेकिन लेमिनेट में इसे स्ट्रीमलाइन करने की चुनौती होगी। सिमल्टेनियस क्लोजिंग प्रेस में उपकरण 8 या 10 फीट की दूरी पर जुड़े रहते  हैं। लेमिनेट्स में इसकी फिटिंग की चुनौतियां हमारे सामने आती हैं, क्योंकि इसमें कई इनलेट और आउटलेट होते हैं, फिर भी इसे किया जा सकता है। स्वाभाविक रूप से ऐसा कर समय और बिजली की खपत कम कर सकते हैं। साइमल्टेनियस प्रेस प्रणाली एक बूस्टर प्रणाली है इसलिए इससे बिजली की खपत कम हो जाएगी। ऐसा किया जा सकता है बस पहल करने की जरूरत है।

कंपनी के संस्थापक स्वर्गीय श्री अभय राज छाजेर की 73वीं जयंती पर उद्योग जगत के लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की

स्वर्गीय श्री अभय राज छाजेर की कई उद्योग समूहों के साथ एक यादगार यात्रा थी, उनमें से कुछ इस कार्यक्रम में मौजूद थे और कई प्लाई रिपोर्टर फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कार्यक्रम को लाइव देख रहे थे। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों में श्री सज्जन भजंका, चेयरमैन, सेंचुरी प्लाईबोर्ड्स इंडिया लिमिटेड, श्री राजेश मित्तल, चेयरमैन, ग्रीनप्लाई इंडस्ट्री लिमिटेड; श्री माखन गट्टानी, एमडी, गट्टानी इंडस्ट्रीज; श्री मधुकर अग्रवाल, चेयरमैन, मेपल पैनल्स प्राइवेट लिमिटेड; श्री राकेश अग्रवाल, एमडी, अमूल्या माइका ग्रुप; श्री जगदीश गुप्ता, चेयरमैन, स्टाइलैम इंडस्ट्रीज लिमिटेड; श्री अमृत पटेल, एमडी, सिग्नेचर लैमिनेट; श्री बिमल चोपड़ा, एमडी, मेट्रो प्लाइवुड ग्रुप; श्री पदम जैन, एमडी, न्यू प्रगति प्लाइवुड एंड डेको प्लाई; श्री अशोक अग्रवाल, एमडी, विद्या प्लाई एंड बोर्ड प्राइवेट लिमिटेड; श्री वी के पटेल, एमडी, कल्पतरु डोर्स; श्री सुरिंदर अरोड़ा, एमडी, वर्गो ग्रुप; श्री अजय छाजेर, एमडी, अंबिका हाइड्रोलिक्स; श्री रवींद्र छाजेर, एमडी, अंबिका हाइड्रोलिक्स, तथा श्री प्रगत द्वेदी, संस्थापक संपादक, प्लाई रिपोर्टर और श्री राजीव पाराशर, संपादक, प्लाई रिपोर्टर शामिल थे।

श्री अजय राज छाजेर, एमडी, अंबिका हाइड्रोलिक्स ने अपने भाई स्वर्गीय श्री अभय राज छाजेर को याद करते हुए अपनी स्मृति साझा की और कहा कि आज के अंबिका हाइड्रोलिक्स की स्थापना अभय राज जी ने वर्ष 1982 में की थी। इसके ग्रोथ का श्रेय उद्योगके लोगों को जाता है, जिन्होंने हमें हर तरह से सहयोग कर इसे फलने-फूलने में मदद की।

श्री रवींद्र छाजेर, एमडी, अंबिका हाइड्रोलिक्स ने कहा कि मेरे पिता ने हमें एक शिक्षा दी थी कि दूसरों की आशंकाओं से अपना विचार मत बनाए, अपने अवलोकन के आधार पर निर्णय लें। हम उनकी शिक्षाओं के साथ भविष्य की संभावनाओं के प्रति समर्पित होकर पूरी सकारात्मकता से साथ आगे बढ़ रहे हैं। कोविड के इस खाली समय में हमने सोचा कि उद्योग जगत के लिए कुछ अलग पेश किया जाए, जिससे आपको प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से लाभ हो। हम

भविष्य में हम वीडियो की मदद से सामान्य समस्या से जुड़ी ट्यूटोरियल को भी शामिल करेंगे, जो उन्हें अपनी समस्या को स्वयं हल करने में मदद करेगा। आज के कोविड के समय में हर कोई अपनी सुविधा के लिए इस तरह के एप्लिकेशन के अभ्यस्त है, इसलिए उद्योग के लोगों को इससे बहुत फायदा मिल सकता है।

यह ऐप लेकर आए हैं जो उद्योग के कई लोगों के साथ अनेक चर्चाओं और काफी मंथन के बाद लाया गया है। उन्होंने उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों, ऑनलाइन जुड़े दर्शकों और टीम प्लाई रिपोर्टर को इस कार्यक्रम की शानदार सफलता के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि ‘‘मुझे गर्व है कि मेरे पिता की 73 वीं जयंती के अवसर पर सभी उद्योग समूह जो अपने शुरुआती दिनों में लंबे समय से उनसे जुड़े थे आज यहां मौजूद हैं। सभी शुभचिंतकों ने उन्हें इतना सम्मान दिया। वैसे तो वे हमें छः साल पहले ही छोड़कर चले गए हैं लेकिन उनके प्रिंसपल, इमेज और शिक्षाओं को सभी बड़े गर्व से याद करते हैं। मैं उन सभी को सम्मान और कृतज्ञता के साथ तहे दिल से धन्यवाद देना चाहता हूं।

You may also like to read

shareShare article