62 दिनों बाद भोपाल में खुली प्लाइवुड की दुकानें

person access_time   4 Min Read

भोपाल में आज से यानी 27 मई से 62 दिनों बाद प्लाइवुड, लेमिनेट, हार्डवेयर और फर्नीचर की दुकानें खोली गयी हैं। भोपाल जिला प्रशासन ने कुछ दिनों पहले व्यापारी समुदाय के साथ बैठक करने के बाद यह निर्णय लिया, और मंगलवार को दिशा निर्देश जारी किया गया। भोपाल प्लाइवुड एंड हार्डवेयर व्यापारी एसोसिएशन ने इसका स्वागत किया और कहा कि इससे व्यापारियों को राहत मिलेगी और क्षेत्र में व्यावसायिक गतिविधियां बढ़ेगी। एसोसिएशन ने व्यापारियों और निर्माताओं के लिए दिशानिर्देशों की एक सूची भी जारी की। साथ ही covid19 महामारी से सुरक्षा के लिए प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिए गए निर्देशों का सख्ती से पालन करने के सुझाव दिए।

भोपाल प्लाइवुड एंड हार्डवेयर व्यापारी एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री चेतन पटेल ने कहा कि शहर को तीन जोन में विभाजित किया गया है, जिसमें पहले दो जोन छह दिना खुलेंगे, जिसमें विभिन्न दुकानें अलग अलग दो दिन खोले जायेंगे। एमपी नागर क्षेत्र मंगलवार और शुक्रवार को खुलेगा। पुराना शहर बुधवार और शनिवार को खुलेगा और तीसरा क्लस्टर 5 दिन खुलेगा। तीसरे जोन में बैरागढ, लालघाटी और गांधी नगर का इलाका शामिल हैं जो मंगलवार और शनिवार को बंद रहेंगे। एमपी नगर में दुकानें शुक्रवार को पहली बार खुलेंगे। निजी कार्यालयों को 50 फीसदी श्रमिकों के साथ काम करने का निर्देश दिया गया है और बिल्डरों को अपने निर्माण कार्य को फिर से शुरू करने की अनुमति दी गई है। दुकानें केवल सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक खुली रहेंगी। ये सभी राहतें स्थानीय प्रशासन द्वारा सुरक्षा और निर्देशों को कड़ाई से पालन करने की शर्त के साथ दी गई हैं।

एसोसिएशन के संयुक्त सचिव श्री संतोष बजाज ने कहा कि अब हमें राहत मिली और 62 दिनों के बाद दुकानें खुलेगी। हर कोई एक दूसरे का सहयोग कर रहे है और श्रमिकों ने दुकानों और कारखानों में अपनी ड्यूटी फिर से शुरू कर दी है। हम धीरे-धीरे सामान्य व्यापारिक गतिविघियों को अपना लेंगे और बाजार में फिर से रौनक लौट आएगी। उन्होंने कहा कि दुकाने बंद होने से पेमेंट का फ्लो काफी कम हो गया था, अब इसमें सुधार होगा।

श्री पटेल ने आगे कहा कि सरकार ने अपने कर्तव्यों का पालन किया और लोगों को सुरक्षा के बारे में प्रमुखता से जागरूक किया, साथ ही दिशा निर्देश भी जारी किया कि महामारी के प्रभाव से बचने के लिए कड़ाई से पालन करें। अब यह हमारी जिम्मेदारी है कि दिशा-निर्देशों का ठीक से पालन करें। लोग पहले से ही इसका पालन कर रहे हैं और अपने स्वास्थ्य और स्वच्छता का ध्यान रख रहे हैं। हमें कम से कम छह महीने तक इसके साथ रहना होगा, इसलिए हमें इससे लड़ने के लिए अपना मन बनाना पड़ेगा। हम सभी एहतियात बरत रहे हैं और अपने सभी सहयोगियों का भी ध्यान रख रहे हैं। अगर हम सावधानियों के साथ आगे बढ़ते हैं तो ग्राहकों में विश्वास पैदा होगा और वे निडर होकर बाजार आ सकेंगे।

Agni Ply

 

You may also like to read

shareShare article